ETV News 24
Other

छठ घाटों की बैरिकेडिंग व खतरे का बैनर लगाने में लायें तेजी : डीएम

छठ घाटों की बैरिकेडिंग व खतरे का बैनर लगाने में लायें तेजी : डीएम
बेतिया/बिहार
अश्वनी सिंह / ब्यूरो चीफ बेतिया
बेतिया जिलाधिकारी डॉ. निलेश रामचंद्र देवरे व एसपी जयंतकांत ने शहर के छठ घाटों का निरीक्षण कर तैयारी का जायजा लिया। उत्तरवारी पोखरा छठ घाट पर मौके पर मौजूद नप सभापति गरिमा सिकारिया व ईओ विजय कुमार उपाध्याय से कहा कि नगर परिषद क्षेत्र के सभी छठ घाटों पर मानक दूरी अधिकत्तम तीन फीट पर अनिवार्य रूप से बांस बल्लियों के द्रारा बैरिकेडिंग कर के सुरक्षा घेरा बनवाया जाय। वही खतरे का निशान व उसका बैनर भी लगवाना अनिवार्य रूप से सुनिश्चित की जाय। इसके अलावें शहर के मुख्य घाटों पर नाव के साथ गोताखोर नाविकों की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश डीएम डॉ. देवरे के द्रारा दिया गया। वही एसपी जयन्त कांत ने बताया कि छठ महापर्व को लेकर शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों तक में पुलिस गश्त तेज करने, घाटों पर खुद थानाध्यक्षो द्रारा सुरक्षा प्रबंध का जायजा लेने के साथ हर एक घाट पर  पदाधिकारियों केसाथ पुलिस बल की तैयाती सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं। लोक आस्था के महापर्व में सब निभाये भागीदारी:गरिमा छठ महापर्व अपनी तरह का अनूठा है। जिसका का विधि विधान शास्त्र मत से कही अधिक लोक मत से निर्धारित है। लोक आस्था के इस महापर्व में किसी प्रकार से योगदान पूण्य का कार्य होता है। इस महान आयोजन में हम सबको अपना योगदान देना चाहिए। उक्त बातें नप सभापति गरिमा सिकारिया ने कहीं। वे गुरूवार को घाटों के निरीक्षण के क्रम में संतघाट के छठ घाट की व्यवस्था व तैयारी देखने के बाद उपस्थित लोगों को सम्बोधित कर रहीं थीं। उन्होंने कहा कि समाज के आमजन से खास लोगों की महत्वपूर्ण भगीदारी के बिना ऐसे आयोजन की तैयारी सम्भव नहीं हो पाती। छठ मईया की महिमा पर नतमस्तक होते हैं। सभापति ने लोगों की मांग पर छठ घाट के समीप चलंत शौचालय लगाने का निर्देश दिया। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि घाट पर महिलाओं की भीड़ ज्यादा होने को लेकर प्रसाधन सुविधा मुहैया कराई जाय।

Related posts

मयंक टीवीएस ने मनाया 25 माह सालगिरह

admin

नागरिक संसोधन कानून को ले कांग्रेस, राजद और अन्य विपक्षी पार्टियों द्वारा फैलाया जा रहा है अफवाह :- मंगल पांडेय

admin

नगर परिषद के कम्युनिटी किचन में बने भोजन की जांच के  उपरांत ही गरीबों में बांटा जाता है : सुशील कुमार

admin

Leave a Comment