ETV News 24
Other

धनरुआ प्रखंड में अनिमीयता का आरोप लगाकर ग्रामीणों ने किया धरना एवं आमरन अनशन।

धनरुआ प्रखंड में अनिमीयता का आरोप लगाकर ग्रामीणों ने किया धरना एवं आमरन अनशन।

मसौढ़ी मुख्यालय के धनरूआ प्रखंड परिसर में ग्रामीणों के द्वारा धरना प्रदर्शन का आयोजन किया गया है। इस सभा अधयता पूर्व अध्यक्ष बीस सूत्री समीती धनरूआ अशोक रजक ने किया। धनरुआ 18 पंचायतों से ग्रामीण लोग मौजूद थे।


सात सुत्री मांगें
धनरुआ अंचल में बाढ़ सूखाग्रस्त पंचाय को राहत राशि बीस पंचायत की जनता को जल्द से जल्द भुगतान किया जाए।
2/धनरूआ अंचल अधिकारी के निर्देश पर जमाबंदी दाखिल खरिज भुमि, प्रमाणपत्र,जाती एवं आय आवाशिय पर बिचौलियों से पैसे लिए जाते हैं इसकी जांच कर अंचलाधिकारी को बर्खास्त किया जाए।
3/ शौचालय में अबैध रूप से जो राशि वसूली जाती है उसमें शौचालय समन्वय पर्यवेक्षक प्रमुख एवं बिचौलियों से जो राशि ली जाती है उसकी जांच कर दोषी के उपर कार्रवाई किया जाय।
4/अबैध मिट्टी एवं बालू खनन जो कररुआ नदी से किया जा रहा है उसकी जांच कर दोषियों को कारवाई किया जाय।
5 , धनरूआ थाना में चौकिदार को मुंशु बनाकर जो अबैध वसुली की जाती है उसकी जांच कर कार्रवाई किया जाय।
6/शिक्षा के क्षेत्र में देर से पहुंचने वाले शिक्षकों जो विधालय पर पहुंचते हैं उनकी जांच कर कार्रवाई किया जाय।
7/ पभेडी मोड़ पर अवैध स्टैंड बनाकर जो वसुली की जाती है उसे अभीलंभ बंद किया जाए। ग्रामीणों का कहना है कि बाढ़ एवं सुखाड़ का पैसा पांच दिन के अंदर नहीं आता है तो हमलोग इससे तेज धरना प्रदर्शन करेंगे। धरना में उपस्थित अनिल यादव, कुमार गौरव,पभेडा पंचायत मुखिया माधुरी देवी, सुजीत कुमार,रवि कुमार,संजीत सिंह, रविंद्र यादव, धर्मवीर कुमार, अरूण कुमार, मनोज कुमार, जितेंद्र कुमार, मौजूद रहे।

Related posts

“लॉक डाउन की मार झेल रहे गरीब असहाय को भलुआं में यादव डेयरी के द्वारा भोजन कराया@Etv News 24”

admin

मुख्यमंत्री ने लॉकडाउन में रोजगार सृजन के कार्यों की समीक्षा की

admin

१२ जनवरी को होगा डायवर्जन पुल का उद्घाटन

admin

Leave a Comment