ETV News 24
Other

नगर पंचायत के प्रयास से गुलजार हुआ सुपर मार्केट

कैमूर/बिहार

मोहनिया के प्रयास से तकरीबन 15 वर्ष पूर्व बने सब्जी मंडी सह सुपर मार्केट में सब्जी विक्रेताओं को वापस बुलाकर गुलजार किया गया। जैसे ही सारे सब्जी विक्रेताओं को स्थानीय लोगों ने सब्जी मार्केट में वापस जाते देखा वैसे ही वहां खरीददारों की भीड़ लग गई। बताते चलें कि प्रशासन के सख्त रवैये के कारण बरसों पुरानी स्टूअरगंज सब्जी मंडी के अतिक्रमण को उजाड़ दिया गया है और प्रशासन ने अतिक्रमणकारियों को काफी सख्त हिदायत दी है कि यदि इस रूट पर दोबारा अतिक्रमण हुआ तो कानूनी कार्रवाई की जाएगी ।इसी को देखते हुए पिछले कई दिनों से सब्जियों की छोटी-छोटी दुकानें शहर के विभिन्न इलाकों में अपना डेरा जमाए हैं लेकिन लोगों को स्थाई सब्जी मार्केट की दरकार थी और लोग एक साथ एक ही जगह से सारी चीजें नहीं खरीद पा रहे थे इस समस्या को देखते हुए नगर पंचायत मोहनिया ने 15 वर्ष पुराने बंद पड़े सब्जी मंडी सुपर मार्केट को फिर से रिओपन करा दिया और इसमें सारे सब्जी विक्रेताओं को एडजस्ट किया। जबकि इस बाबत नगर पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि शिव जी का कहना था कि अभी सारे विक्रेताओं को इकट्ठा कर नगर के लोगों के लिए मुश्किलें आसान की गई हैं,धीरे-धीरे वेंडर प्रक्रिया फिर से बहाल कर सब्जी मंडी को वापस गुलजार किया जाएगा ताकि आम लोग इसका फायदा उठा सकें ।साथ ही सब्जी विक्रेता भी सुरक्षित महसूस कर सकें। बताते चलें कि इस सुपर मार्केट का निर्माण 6 नवंबर 2004 को हुआ था,तकरीबन 24लाख 50 हजार की लागत से बने इस सब्जी मंडी सह सुपर मार्केट का उद्घाटन तब के बिहार के जल संसाधन एवं वन पर्यावरण मंत्री जगदानंद सिंह द्वारा किया गया था लेकिन अपने ओपनिंग के कुछ दिनों बाद ही यह मार्केट विरान हो गई और सारे विक्रेता वापस स्टूबरगंज की ओर कूच कर गए लेकिन अब नगर पंचायत मोहनिया के इस कदम का नगर के लोगों ने भी स्वागत किया है व स्थाई शब्जी मार्केट की तलाश कर रहे विक्रेताओं ने भी राहत की सांस ली है।

Related posts

समस्तीपुर जिले के अंतर्गत चकमेहसी थाना परिसर मैं स्थानीय प्रखंड प्रमुख कृष्णा देवी के नेतृत्व में दरभंगा इमेजिंग सेंटर की टीम पूरी सजगता के साथ सामाजिक दायित्वों को पूरा कर रही है

admin

मुख्यमंत्री राहत कोष में पप्पू  यादव ने 25 हजार  दिया

admin

जल जीवन हरियाली का मतलब जीवन की सुरक्षा -डीएम

admin

Leave a Comment