ETV News 24
Other

मंत्री व सचिव ने वीडियो कॉन्फरेंस के द्वारा जल जीवन हरियाली अभियान को लेकर दिये कई निर्देश


जमुई ( ब्यूरो अजीत कुमार )
जिला मुख्यालय में अवस्थित एन आई सी सभागार में बिहार सरकार के उप मुख्यमंत्री सह वन एवं पर्यावरण मंत्री आदरणीय सुशील कुमार मोदी ने वीडियो कॉन्फरेंस के द्वारा जल जीवन हरियाली अभियान को सफल बनाने के लिए कई निर्देश दिए। एनआईसी सभागार में जिलाधिकारी धर्मेन्द्र कुमार जी के अनुपस्थिति में उप विकास आयुक्त अरूण कुमार ठाकुर,जिले तेज तर्रार एसपी डॉ इनामुल हक मेंगनू ,एडीएम कुमार संजय प्रसाद,डीएफओ सत्यजीत कुमार, एनआईसी के राकेश जी,नगर परिषद झाझा और जमुई के कार्यपालक पदाधिकारी जनार्दन प्रसाद वर्मा,भूमि संरक्षण अधिकारी,भवन निर्माण के कार्यपालक अभियंता,जिला सूचना पदाधिकारी, एवं संबंधित पदाधिकारियों को जल जीवन हरियाली अभियान के अंतर्गत सभी स्थलों पर वृक्षारोपण कार्य को सफल बनाने का निर्देश दिये हैं। वित्तीय वर्ष 2020-21 को मार्गदर्शिका में रखकर वैसे चिन्हित स्थानों पर जैसे स्कूल,महाविद्यालय,तकनीकी महाविद्यालय,पुलिस स्टेशन,मिलिट्री कंडोलमेन्ट,शहरी क्षेत्र यानि हर जगहों पर पौधा लगाने का निर्देश दिया । सघन वृक्षारोपण कार्यक्रम के तहत पंचायत स्तर से जिला स्तर तक सूक्ष्म माइक्रोप्लानिंग किया जाना है।वैसे सभी लोगों से डिमान्ड प्राप्त किया जाना है जो पौधा लगाने को इच्छुक हैं। माननीय उप मुख्यमंत्री द्वारा बताया गया कि पंचायत स्तर के लोगों से उनके द्वारा पसंद किये गये पौधों को प्राथमिकता दिया जाये ।उक्त आलोक में ही उक्त प्रजाति के पौधों का नर्सरी तैयार करने हेतू विभाग को सूचित किया जाय।इस कार्य के लिए मनरेगा,वन विभाग और उद्यान विभाग को पौधा तैयार करने हेतु चिन्हित किया गया है।
वहीं पहली बार इस कार्यक्रम में कृषि विभाग को जोड़ा गया है और निर्देशित किया गया है कि जिला स्थित बड़े बड़े कृषक को चिन्हित करते हुए उनसे भी प्रस्ताव लिया जाय कि कृषि युक्त भूमि के अलावे बचे भूमि पर उन्हें किस प्रकार के पौधों की आवश्यकता है। पर्यावरण, वन,जलवायु परिवर्तन विभाग के प्रधान सचिव के द्वारा यह भी निर्देश दिया गया है कि प्रत्येक पंचायत को वित्तीय वर्ष 2020-21 में( 2,000)दो हजार पौधे को लगाया जाना है।
वहीं बिहार सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट जल जीवन हरियाली,नशा मुक्ति,व दहेज प्रथा के उन्मूलन हेतु 19 जनवरी 2020 को मानव श्रृंखला की तैयारी की जानी है।जिसमें पिछले दो मानव श्रृंखलाओं से वृहद स्तर पर मानव श्रृंखला की तैयारी जिला स्तर पर करना है।

Related posts

१२ जनवरी को होगा डायवर्जन पुल का उद्घाटन

admin

दो पक्षों के बीच जम कर हुई मारपीट

admin

जिला अधिकारी द्वारा दिए गये आदेश सम्पूर्ण समाधान दिवस पर आने वाली शिकायतों का निस्तारण समयबद्ध एवं गुणवत्तापूर्ण ढंग से निपटारा करें

admin

Leave a Comment